Categories
शेर

कश्ती लेकर

बच्चे काग़ज़ की चले आते हैं कश्ती लेकर

पानी से भर दे जो गड्ढों को कहीं पर बारिश

Latest posts by चित्रेन्द्र स्वरूप राजन (see all)